COVID

India Coronavirus Cases And Death Updates 5 January-2021



नई दिल्ली: भारत में कोरोना वैक्सीनेशन का काम शुरू होने से पहले ही नए केस में गिरावट दर्ज की जा रही है. बीते दिन भी भारत में अमेरिका, ब्रिटेन, रूस और ब्राजील से कम केस आए हैं. देश में छह महीने बाद सबसे कम कोरोना केस आए हैं और लगातार दूसरे दिन 17 हजार से कम मामले आए. पिछले 24 घंटे में 16,375 नए संक्रमित मरीज आए हैं, 201 लोग कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए. अच्छी बात ये है कि बीते दिन 29,091 मरीज कोरोना से ठीक भी हुए हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, भारत में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 1 करोड़ तीन लाख 56 हजार हो गए हैं. इनमें से अब तक एक लाख 49 हजार 850 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है. कुल एक्टिव केस घटकर 2 लाख 31 हजार पर आ गए. अब तक कुल 99 लाख 75 हजार लोग कोरोना को मात देकर ठीक भी हो चुके हैं.

17 करोड़ से ज्यादा कोरोना टेस्ट

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के मुताबिक, तीन जनवरी तक कोरोना वायरस के लिए कुल 17 करोड़ 65 लाख कोरोना के सैंपल टेस्ट किए गए, जिनमें से 8.96 लाख सैंपल कल टेस्ट किए गए. देश में पॉजिटिविटी रेट सात फीसदी है. 33 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना वायरस के 20,000 से कम सक्रिय मामले हैं. कोरोना वायरस के कुल सक्रिय मामलों में 40 फीसदी मामले केरल और महाराष्ट्र से हैं.

मृत्यु दर और रिकवरी रेट

महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और केरल में सबसे ज्यादा रिकवरी हुई है. कुल रिकवरी के 52 फीसदी मामले इन्हीं पांच राज्यों में है. सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना वायरस का रिकवरी रेट 90 फीसदी से ज्यादा है. राहत की बात है कि मृत्यु दर और एक्टिव केस रेट में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.45 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट 96 फीसदी से ज्यादा है. एक्टिव केस ढाई फीसदी से भी कम है.

सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं. एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का 10वां स्थान है. कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का दूसरा सबसे प्रभावित देश है. रिकवरी दुनिया में अमेरिका के बाद सबसे ज्यादा भारत में हुई है. मौत के मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत का नंबर है.

ये भी पढ़ें-
UK Lockdown: ब्रिटेन में तेजी से फैल रहा कोरोना वायरस, लगातार 7वें दिन 50 हजार से ज्यादा आए केस

देश पर मंडराया ‘बर्ड फ्लू’ का खतरा, हिमाचल में हुई 1800 प्रवासी पक्षियों की मौत, एमपी-गुजरात भी हालात बुरे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *